…तो इसलिए होता है आपकी शादीशुदा जिंदगी में तनाव!

आज की तेज रफ़्तार जिंदगी में तनाव बहुत आम बात है| अगर आपके रिश्ते में किसी वजह से तनाव आ रहा है तो उसे सही वक़्त के रहते ठीक कर लीजिए| जब पति पत्नी के रिश्ते में तनाव आ जाये तो रिश्ते मधुर नहीं रह जाते तब दोनों का जीवन काफी तनावपूर्ण हो जाता है| जिसका असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ता है और साथ ही साथ पुरे परिवार के लिए भी नुकसानदेही होता है| आइए,जानते है ऐसे कौन से चार कारण है जिससे पति पत्नी के बीच होता है तनाव?

1.पार्टनर का हावी रहना-अक्सर शादीशुदा जिंदगी में देखा जाता है कि पति और पत्नी दोनों एक दुसरे पर हावी होते रहते है | जिससे दोनों के मन की बात मन में ही दबी रह जाती है| वह अपनी फीलिंग को कह नहीं पातें उनकी मन की बात मन में ही रह जाती है जिससे पति पत्नी के रिश्ते में दरार आने लगती है| उनके सम्बन्ध बिगड़ने लगते है और जिन्दगी तनावपूर्ण हो जाती है| ऐसे समय में पति पत्नी को एक दुसरे को सपोर्ट करना चाहिए|

२. अकेलापन – अकेलापन की अवस्था बहुत बुरी अवस्था होती है|आज के दौर में पत्नी वोर्किंग हो या हाउसवाइफ हो दोनों में अकेलापन  हावी होता है| जब पति ऑफिस गए हो आप घर में अकेली हो तो इस स्थिति में अकेलापन हावी होने लगता है या पती पति पत्नी दोनो वोर्किंग हो दोनों अपने करियर को लेकर काफी व्यस्त रहते है उस वजह से वह एक दुसरे के साथ समय नहीं बिता पातें और ढंग से बातचीत नहीं कर पातें| रात में भी काम की वजह से दोनों में बातचीत नहीं हो पाती| इससे कही न कही दोनों की जिंदगी अकेलेपन की शिकार बन जाती है|

३. कम्यूनिकेशन गैप–  जब पति पत्नी के बीच काफी कम्युनिकेशन गैप हो जाए तो यह भी तनाव का कारण बन जाता है |इंसान एक दुसरे की भावनाओ को तभी समझ पाता है जब कम्युनिकेशन गैप न हो| यह किसी रिश्ते में कम्युनिकेशन गैप हो जाए तो वहां तनाव जगह ले लेता है| फिर दोनों की दिल की बातें दिल में ही रह जाती है फिर इससे आप दुखी रहने लगते है जो तनाव का कारण बनता है |

4. रिश्‍तों के प्रति सम्‍मान की कमी– किसी भी रिश्ते को बनाए रखने के लिए सम्मान बहुत जरुरी है| जब आप अपने पार्टनर को कुछ अपशब्‍द कह देते है या उनका सम्मान नहीं करते तो उनके दिल को काफी ठेस पहुचती है यह रिश्ते की मर्यादा को चोट पहुचाते है और यह शादी शुदा जिंदगी में तनाव का कारण बनते है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *