महिलाओं को घरेलू हिंसा से सुरक्षा का अधिकार

 क्या है घरेलू हिंसा?

  • घरेलू हिंसा का मतलब है  किसी भी महिला के साथ हिंसा या प्रताड़ना|

  • अगर महिला के साथ मारपीट हो रही है या उसको मानसिक  प्रताड़ना दी जा रही हो वह डीवी ऐक्ट के तेहत कवर होगा

  • अगर महिला के साथ गाली गलोच या मारपीट या ताने मारना या फिर उसे भावनात्मक ठेस पहुचाना या आर्थिक प्रताड़ना तो वह डीवी ऐक्ट के तहत आता है | इसके अन्दर आर्थिक प्रताड़ना भी शामिल है |

  • अगर कोई महिला की सैलरी रख ले या उसे महिला को खर्चा न दे या उसकी नौकरी से सम्बंधित दस्तावेज रख ले तो इस एक्ट में आता है | चाहे वो पत्नी ,बेटी हो या माँ ही क्यों न हो वह आवाज उठा सकती है और घरेलू हिंसा कानून का सहारा ले सकती है |

  • यदि किसी महिला को परेशान किया जा रहा है| आर्थिक प्रताड़ना या घर से निकाला जा रहा हो तो वह डीवी ऐक्ट के तहत शिकायत कर सकती है |

घरेलू हिंसा से सुरक्षा

महिलाओं  को अपने पति और पिता के घर सुरक्षित रखने के लिए डीवी ऐक्ट (डोमेस्टिक वॉयलेंस ऐक्ट) का प्रावधान किया गया है |

Also readकितना है महिलाओं की खुद की संपत्ति पर अधिकार

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *